SOME TIPS FOR SUCCESS IN THE EXAM (परीक्षा में सफलता के लिए कुछ टिप्स)


अगर आप किसी परीक्षा की तैयारी कर रहे है और उसमें अच्छे नंबर्स से सफल होना चाहते है तो आपको इसके लिए रणनीति बनाकर तैयारी करने की आवश्यकता है। सही मार्गदर्शन के अभाव में छात्र सही ढ़ंग से तैयारी नहीं कर पाते और परीक्षा का समय नजदीक आते ही उनमें घबराहट बढ़ने लगती है। यहाँ कुछ टिप्स दिए जा रहे है, जिन्हें अपनाकर आप किसी भी परीक्षा में सफलता प्राप्त कर सकते है।

1. समय के महत्व को समझे

अगर आप सफल होना चाहतें हैं तो आपको समय के महत्व को समझना होगा और काम को सही समय पर करने की आदत डालनी होगी। जो कार्य ज़रूरी है, उसे पहले करे और समय पर करें। यह तो आपने सुना ही होगा कि “काल करे सो आज कर, आज करे सो अब” जिसका मतलब है कि हमें कल के काम को आज और आज के काम को अभी कर लेना चाहिए।

2. पढ़ाई के लिए सही और शांत जगह को चुने

पढ़ाई करने के लिए एक उपयुक्त एवं शांत जगह का चुनाव करना बहुत ज़रूरी है। पढ़ाई का स्थान ऐसा होना चाहिए जहाँ पर पूरी एकाग्रता और शांत मन से बैठकर पढ़ा जा सके। यदि घर छोटा हो या घर में ऐसा कोई उपयुक्त स्थान ना हो तो घर के बाहर किसी शांत जगह, किसी दोस्त के घर या किसी पुस्तकालय(Library) में जाकर पढ़ना ज्यादा अच्छा होगा।

3. समय सारणी बनाएं

जो भी विद्यार्थी सफल होना चाहता है उसके लिए आवश्यक है कि वह पढ़ाई के लिए निर्धारित किये गए समय की एक समय सारणी (Time Table) बनाएं। उस समय सारणी में हर विषय के लिए एक निश्चित समय आवंटित करें। एक सही समय सारणी बनाने पर ही आप हर विषय पर सही ध्यान दे पायेंगे। दोस्तों , केवल समय सारणी बना लेना ही पर्याप्त नहीं है, उसका पालन करना भी ज़रूरी है।

4. ब्लेंक कार्ड्स (Blank Cards) का प्रयोग करें

पढ़ते समय किसी उत्तर के मुख्य बिन्दुओं को लिखने के लिए आप छोटे छोटे साइज़ के नोट्स या पर्चियों का प्रयोग कर सकते है। यह आपको revision करते समय मददगार साबित होंगे।

5. बड़े कार्यों को छोटे छोटे भागों में बाँटें

कोई भी बड़ा कार्य जब हम करते हैं तो शुरुआत में बहुत कठिन और असंभव लगता है। लेकिन जब हम उस कार्य को छोटे छोटे टुकड़ों में बाँट देते हैं तो वही कार्य आसान लगने लगता है। इसी प्रकार पढ़ाई में भी बड़े Chapter या Formula को छोटे भागों में बाँट कर आसान बनाया जा सकता है। इससे पढ़ना आसान और रुचिकर हो जाता है।

6. मुख्य बिन्दुओं को Highlight करें

जब भी आप पढ़ाई करने बैठें, तो अपने साथ एक Highlighter Pen हमेशा रखें। अगर आपको कोई महत्वपूर्ण नाम, तिथि, स्थान या वाक्य दिखाई देता है तो तुरंत उसे Highlight कर लीजिये। इससे आपको Revision करते समय काफ़ी मदद मिलेगी।

7. अपना लक्ष्य निर्धारित करें

अपनी पढ़ाई के लक्ष्य निर्धारित कीजिये। आप कौनसा Chapter या किताब कितने दिनों में ख़त्म करना चाहते हैं, कौन से Subjects पर विशेष ध्यान देने की ज़रूरत है या अपने मनपसंद कॉलेज में जाने के लिए या किसी एग्जाम को क्लियर करने के लिए कितने प्रतिशत अंकों की ज़रूरत होगी। इस प्रकार अपनी पढ़ाई के लक्ष्यों तो तय करना बहुत ज़रूरी है। अगर आप हर हफ्ते, महीने का लक्ष्य निर्धारित करते हुए पढ़ाई करेंगे तो साल के अंत में बिना घबराहट के सही ढंग से परीक्षा की तैयारी कर पायेंगे।

8. सभी ज्ञानेन्द्रियों (Senses) को सम्मिलित करें

अपनी पाँचों ज्ञानेन्द्रियों (कान, नाक, आँख, जीभ और त्वचा) का यथासंभव प्रयोग अपनी पढ़ाई में करें। किताब में छपे पिक्चर और चार्ट्स आदि को ध्यान से देखें। जब आप नोट्स पढ़ रहे हो तब उन्हें बोल कर पढ़े ताकि आप अपनी अलग-अलग ज्ञानेन्द्रियों का स्तेमाल कर सके। आप अपने नोट्स को ऑडियो में रिकॉर्ड करके भी सुन सकते हो या ऑनलाइन क्लासेज ले सकते है। वीडियो देख सकते है। थोड़ा स्मार्ट तरीके से पढ़ाई करे और अपनी सभी ज्ञानेन्द्रियों का स्तेमाल करने की कोशिश करे ताकि आप अधिक ध्यान से पढ़ सके और उसे याद रख सके।

9. पढ़ाई के बीच अल्प विश्राम लें

अधिक समय तक पढ़ाई करने से आपका दिमाग थक जाता है। जब भी आप थकान महसूस करें तो एक अल्प विश्राम ज़रूर लें। 25 मिनट पढ़ाई करने के बाद आप 5 मिनट का या 50 मिनट पढ़ाई करके 10 मिनट का ब्रेक ले सकते है। इससे आपका दिमाग थकावट महसूस नही करेगा और आप अधिक ध्यान से पढ़ पाएंगे।

10. संतुलित भोजन करें

एक पुरानी कहावत है “जैसा अन्न, वैसा मन”, जिसका अर्थ है कि व्यक्ति जैसा अन्न खाता है वैसा ही उसका मन और शरीर बनता है। यह बहुत ज़रूरी है कि आप संतुलित भोजन लें। पिज़्ज़ा, बर्गर, कोल्ड ड्रिंक जैसे जंक फ़ूड से बचें। भोजन के सही तरीके के अनुसार आप सुबह का नाश्ता थोड़ा भारी ले, दोपहर का भोजन उससे हल्का और रात का भोजन उससे भी हल्का लें।

11. शरीर को स्वस्थ रखें

एक स्वस्थ शरीर में ही एक स्वस्थ मन निवास करता है, इसलिए सुबह के समय पार्क जरूर जायें और व्यायाम करें। जितना स्वस्थ आपका शरीर होगा, उतने ही आप एक्टिव और आत्मविश्वास से भरे रहेंगे।

12. प्रश्नपत्र को ध्यान पूर्वक पढ़ें

जब आप कोई परीक्षा दे रहे हो तो उत्तर लिखना शुरू करने से पहले प्रश्नपत्र को ध्यानपूर्वक पढ़ लें। कई बार घबराहट में हम प्रश्न समझ ही नहीं पाते और गलत उत्तर लिख देते हैं।

13. अधिक मात्रा में जल लें

विज्ञान इस बात को प्रमाणित कर चुका है कि शरीर में जल का स्तर जितना अधिक रहता है, उतना ही हमारा मस्तिष्क अधिक कुशलता के साथ कार्य करता है। इस लिए अधिक मात्रा में पानी पीना चाहिये। पढ़ाई करते समय अपने पास पानी की एक बोतल रखनी चाहिए।

14. शांत हो जायें

परीक्षा में जो उतर आपको आते है उन्हें पहले कर ले अगर किसी उत्तर को याद करने में कठिनाई हो तो घबराने कि आवश्यकता नहीं है। घबराहट से स्थिति और अधिक बिगड़ सकती है। आँखें बंद करके कुछ पल के लिए चुपचाप बैठ जायें और गहरी सांस लें। इससे आपके मन को शांत करने में सहायता मिलेगी। फिर धीरे-धीरे उत्तर याद करने की कोशिश करें। जो भी मुख्य बिंदु याद आये उसे कागज़ पर लिख लें।

WHAT IS PASSIVE INCOME? (पैसिव इनकम क्या है और कैसे कमाए?)


दोस्तों यह तो हम सभी जानते है कि पैसा कितना इम्पोर्टेन्ट होता है। लाइफ चलाने या एन्जॉय करने के लिए पैसे तो कमाने ही पड़ते है। कोई गवर्मेंट जॉब करके कमाता है तो कोई प्राइवेट काम करके कमाता है। तो यहाँ इनकम दो प्रकार की होती है। एक इनकम वो होती है जिसमें हमे काम में शामिल होना पड़ता है। जिसे Active income कहते है। और दूसरी वह होती है जिसमे हमे काम में शामिल नही होना पड़ता। फिर भी इनकम आती रहती है। उसे Passive income कहते है। तो आज इस पोस्ट में मैं आपको बताने वाला हू की पैसिव इनकम क्या है? और आप पैसिव इनकम कैसे कमा सकते है? what is passive income and how to earn passive income? पर उससे पहले जान लेते है कि active income क्या है?

What is Active Income? (एक्टिव इनकम क्या है?)

परिवार या लाइफ को चलाने के लिए हमें जॉब करनी पड़ती है। जिसकी हमे सैलरी मिलती है तो ऐसा काम जिसमे हमे शामिल होना पड़ता है, उसे active income कहते है। इसमें आप जॉब या कोई काम करते है। जिसमे आप जितने घण्टे काम करते है। उसके हिसाब से सेलरी मिलती है। पर यहाँ आपको काम मे इन्वॉल्व होना पड़ता है। जैसे मान लो आप कोई जॉब कर रहे हो तो आप को डेली जॉब पर जाना पड़ेगा और काम करना पड़ेगा तभी सेलरी मिलेगी। या आपकी कोई शॉप है तो आपको डेली शॉप खोलनी पड़ेगी तभी कमाई होगी। इसे ही Active income कहते है। अब बात करते है पैसिव इनकम के बारे में पैसिव इनकम क्या होती है?


What is Passive Income? (पैसिव इनकम क्या होती है।)


पैसिव इनकम वह होती है जिसमे हमे काम मे शामिल नही होना पड़ता है। फिर भी इनकम होती रहती है। बस आपको एक बार काम करना पड़ता है या ऐसा स्रोत बनाना पड़ता है जिससे लोगो की हेल्प हो जो उनके काम आए फिर आपको इनकम अपने आप होती है। इसलिए हमें पैसिव इनकम के स्रोत बनाने चाहिए ताकि हम परिवार के साथ टाइम बिता सके और लाइफ को एन्जॉय भी करते रहे फिर भी इनकम होती रहे। तो आइये जानते है पैसिव इनकम के sources कैसे बनाये या पैसिव इनकम कैसे earn करे। तो यहाँ में बात कर रहा हु ऐसे सोर्सेस की जिन्हें आप चाहे तो अपनी कमाई का मुख्य इनकम स्रोत भी बना सकते है।

How to earn passive income? (पैसिव इनकम कैसे कमाए?)


दोस्तों नीचे मैंने कुछ ऐसे महत्वपूर्ण तरीके बताए है। जिनसे आप अच्छी इनकम कर सकते हो। इनमें से जो आपको पसंद है। उस पर काम करके आप उसे अपनी पैसिव इनकम का स्रोत बना सकते है और घर बैठे पैसे कमा सकते है।


1. BLOGGING


अगर आपको लिखने का शोक है तो आप ब्लॉगिंग को अपने पैसिव इनकम का स्रोत बना सकते है। यहाँ आपको उस टॉपिक पर लिखना है जिसमे आपको भी लिखने में इंटरेस्ट आये और जो लोगो के भी कम आये। ब्लॉगिंग के बारे में और जानने के लिए आप यह पोस्ट पढ़ सकते है। Blogging kya hai? ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए? इस पोस्ट में ब्लॉगिंग के बारे में विस्तार से बताया गया है। ब्लॉगिंग पैसिव इनकम का स्रोत ऐसे है की यहाँ आपको एक बार लिखकर अच्छे आर्टिकल या पोस्ट डालनी होती है जो लोगो की सहायता करे। अब यह पोस्ट हमेशा ऑनलाइन रहेगा। लोग सर्च करके आएंगे और आपकी पोस्ट पढ़ेंगे। आपको बस एक बार महनत करनी है पोस्ट लिखने में अगर आपकी पोस्ट लोगो की हेल्प करेगी तो वे उसे पढ़ने आएंगे। इससे दोनों का फायदा है।

2. YOUTUBE


अगर आपको वीडियो बनाना अच्छा लगता है। तो आप वीडियो बना कर यूट्यूब पर डाल सकते हो। जब आपका मोनेटाइजेशन शुरू हो जाएगा तब आप यूट्यूब से भी अच्छी कमाई कर पाएंगे।
पर आपको यूट्यूब पर अच्छा कंटेंट डालना होगा जिससे लोगो की हेल्प हो या उन्हें अच्छा लगे तभी आप earning कर पाएंगे। यहाँ  आपको एक बार मेहनत करके अच्छा वीडियो बनाना है। अगर आपका वीडियो लोगो की हेल्प करेगा तो लोग उसे देखेंगे और आपको लाइफ टाइम उस वीडियो से earning होती रहेगी।

3. APP DEVELOPMENT


अगर आपको एप बनाना आता है तो आप अपने एप बनाकर प्लेस्टोर पर डाल सकते है और उससे पैसिव इनकम कर सकते है। आपको बस एक अच्छा और यूजफुल एप बनाना है। जो लोगो के काम आए। अगर आप लोगो के काम का एप बनाएंगे तो वे उसे जरूर डाउनलोड करेंगे। जिससे आपकी पैसिव इनकम होती रहेगी।

4. PROPERTY RENT


अगर आपके पास कोई प्रॉपर्टी है तो आप उसको रेंट पर दे सकते है। जैसे अगर आपके पास कोई एक्स्ट्रा रूम है तो आप उसको किराए पर दे सकते है। जिससे आपको पैसिव इनकम होती रहेगी।


5. PHOTOGRAPHY


अगर आपको फोटोग्राफी का शौक है तो आप अपनी फोटो के कलेक्शन को Shutterstock.com और iStockphoto.com पर डाल सकते है। यहां आपको अच्छी फोटोज का कलेक्शन डालना है। जब लोगो को आपकी फ़ोटो पसन्द आएगी तो वो उसे खरीद लेंगे। इससे भी आपको पैसिव इनकम होती रहेगी।


6. WRITE A BOOK


अगर आपको लिखने का शौक है तो आप एक बुक लिखकर उसको पब्लिश कर सकते हैं अगर लोगों को आपकी बुक पसंद आती है तो वह उसको जरूर खरीदेंगे। जिससे आपकी पैसिव इनकम होती रहेगी।

BEST VIDEO EDITING APPS FOR ANDROID MOBILE (एंड्रॉइड फ़ोन के लिए बेस्ट वीडियो एडीटिंग एप्स)


दोस्तों अगर आपको वीडियो बनाने में इंटरेस्ट है और वीडियो बनाना अच्छा लगता है और आप youtube, facebook, instagram, या tik tok के लिए वीडियो बनाते है या बनाना चाहते हो तो आपको एक अच्छे वीडियो एडिटर की जरूरत पड़ेगी। तो आज इस पोस्ट में मैं आपको बताने वाला हु ऐसे best video editing apps के बारे में जिनकी मदद से आप अपने फ़ोन से ही अच्छी वीडियो एडिट कर सकते है और वही से उन्हें सोशल मीडिया पर शेयर भी कर सकते है। इनमें कुछ एप्स paid है तो कुछ फ्री है और इन्हें यूज़ करना भी आसान है।




Video Editor एक awesome वीडियो एडिटिंग और मूवी मेकर एप है। जिसमें वॉटरमार्क भी नही आता जो बिल्कुल फ्री है। इसका इंटरफ़ेस भी सिंपल है और इसे यूज़ करना भी आसान है। इसमे आपको बहुत अच्छे फ़िल्टर मिल जाते है। प्लेस्टोर पर इसके 10M से भी ज्यादा downloads है।




InShot एक बहुत ही पॉपुलर और शानदार वीडियो एडिटिंग एप है। जिसे google द्वारा Featured किया गया है। जिसके प्लेस्टोर पर 100M से भी ज्यादा डाउनलोड है। इसे यूज़ करना भी बहुत इजी है। इसमें आपको कॉपीराइट फ्री म्यूजिक मिल जाता है और बहुत से फ़िल्टर और इफ़ेक्ट मिल जाते है। इसमे आप Video Memes भी बना सकते है और वीडियो को full hd में save कर सकते है। सबसे अच्छी बात यह है कि यह बिल्कुल फ्री एप है।


नीचे जितनी भी एप बताये गए है वे सभी paid है। अगर आप उन्हें प्लेस्टोर से डाउनलोड करके यूज़ करोगे तो आपकी वीडियो में एप का वॉटरमार्क दिखेगा। उसे हटाने के लिए आपको paid version लेना पड़ेगा।

3. KineMaster

एंड्राइड मोबाइल पर वीडियो एडिट करने के लिए KineMaster सबसे बेस्ट एवं पॉपुलर ऐप है। इसमे फोन पर ही प्रोफेशनल वीडियो एडिट कर सकते है। इसमे वीडियो लेयर का ऑप्शन मिलता है। जिससे आप एक वीडियो के अंदर दूसरा वीडियो, ओड़िया और इमेज डाल सकते है। KineMaster में ग्रीन स्क्रीन का ऑप्शन भी मिलता है जिससे आप बैकग्राउंड को बदल सकते है। और यह 4k भी सपोर्ट करता है।

4. PowerDirector

अगर आप एक सिम्पल और बेस्ट ऐप चाहते है तो PowerDirector आपके लिए बेस्ट है। यह बहुत पॉपुलर ऐप है। जो एंड्राइड के साथ विंडोज में भी यूज़ किया जाता है। इससे भी आप अपने फ़ोन पर प्रोफेशनल एडिटिंग कर सकते है। इसमें आप अपने वीडियो को Aspect Ratio 16:9 और 9:16 में एडिट कर सकते है। ग्रीन स्क्रीन इस्तेमाल कर सकते हो और अगर आपका फ़ोन 4k सपोर्ट करता है तो 4k वीडियो भी रेंडर कर सकते हो।

5. Filmora


Filmora भी बहुत पॉपुलर वीडियो एडिटिंग एप जिसमें आप फेसबुक, यूट्यूब और इंस्टाग्राम के वीडियो एडिट कर सकते हो इसमें आपको बहुत सी थीम और इफ़ेक्ट मिल जाते है। Trim, music, transaction, pip, crop और colour adjustment के साथ आपको यहाँ एनिमेटेड सबटाइटल भी मिल जाते हैं। यहाँ आपको इफैक्ट स्टोर मिलता है जहां से आप एनीमेटेड एलिमेंट और वीडियो इफ़ेक्ट डाउनलोड कर सकते है।
 


VideoShow एक बहुत पॉपुलर वीडियो एडीटिंग एप है। जिसके प्ले स्टोर पर 100 मिलियन से भी ज्यादा डाउनलोड है। इसमें आपको वीडियो एडिटिंग के सारे टूल्स मिल जाते हैं। जिससे आप इंट्रो, मूवी बना सकते हो और उसमें म्यूजिक भी ऐड कर सकते हो।




यह एप भी VideoShaw एप के जैसा ही है। इसके भी 100M से ज्यादा डाउनलोड प्लेस्टोर पर है। इसमे आपको एडीटिंग के सारे ऑप्शन मिल जाते है। इफ़ेक्ट स्टोर मिल जाता है। जहाँ से इमोजी, एनिमेटेड टेक्स्ट, वीडियो इफ़ेक्ट डाउनलोड कर सकते हो और अपने वीडियो में यूज कर सकते हो।


Movavi clips पर एक अच्छा वीडियो एडिटिंग सॉफ्टवेयर है जिसमें आप आसानी से अच्छी क्लिप और स्लाइड शो बना सकते हो और उसमें म्यूजिक डाल सकते हैं। इसमे आपको कूल स्टिकर्स मिल जाते है। इसमें आपको वीडियो में कट लगाने और वीडियो को मर्ज करने का फंक्शन मिलता है और स्लो मोशन और फास्ट फॉरवर्ड का ऑप्शन भी मिलता है।


अगर आप यूट्यूब पर वीडियो बनाते हो तो यह एप आप के लिए सही है। क्योंकि यह एप youtubers और vloggers के लिए ही बनाई गई है। जैसा कि इसके नाम से ही पता चल रहा है vlogit यानी यह vlogers के लिए ही बनाई गई है। इसमें आपको वह सभी ऑप्शन मिल जाते है जो ऊपर वाले एप्स में है। पर इसमे आप एनिमेटेड इंट्रो बना सकते हो अपनी वीडियो के लिए और अपनी वीडियो का thumbnail भी design कर सकते हो।


तो ये थे Top best video editing apps जिनकी मदद से आप अच्छी वीडियो एडीटिंग अपने फ़ोन से ही कर सकते हो।

BLOGGING KYA HAI (ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए?)


दोस्तों क्या आपने कभी ब्लॉगिंग शब्द सुना है? क्या आप ब्लॉगिंग के बारे में जानते हो? क्या आपको पता है की ब्लॉगिंग क्या होती है? और इससे पैसे कैसे कमाए जाते है? आज इस पोस्ट में मैं आपको बताने वाला हु की BLOGGING KYA HAI और इससे earning कैसे की जाती है।

WHAT IS BLOGGING ( ब्लॉगिंग क्या है? )

ब्लॉगर एक गूगल का प्रोडक्ट है। जहाँ आप फ्री में ब्लॉग बना सकते है और उस पर आर्टिकल या पोस्ट डाल सकते है और www ( world wide web ) पर जानकारी शेयर कर सकते है। ब्लॉगिंग एक बुक की तरह है जहाँ आप जानकारी डालते है और उसे लोगो के साथ शेयर करते है। जैसे मैं अपने वेबसाइट techblaxe.com पर पोस्ट डालता हु और जानकारी आप लोगो के साथ शेयर करता हु और अपनी वेबसाइट को भी अच्छे से मैनेज करता हु इसे ही ब्लॉगिंग कहते है।


HOW TO START BLOGGING ( ब्लॉगिंग कैसे करे? )

अगर आप ब्लॉगिंग शुरू करना चाहते है तो सबसे पहले ये पता कर ले की आपको लिखने में इंटरेस्ट है या नही या आपको किस टॉपिक पर लिखने में इंटरेस्ट है और मजा आता है ताकि बाद में ब्लॉगिंग आपको बोरिंग न लगे। अगर आप ब्लॉगिंग शुरू करना चाहते है तो आपको उस टॉपिक को ढूंढना होगा जिस पर लिखने मैं आपको मजा आये ओर आप बोर भी न हो क्योकि अगर आप ब्लॉगिंग स्टार्ट करते हो तो फिर आपको रेगुलर पोस्ट डालनी होगी। वेबसाइट पर पोस्ट डालना बहुत जरूरी है। पोस्ट के बिना वेबसाइट का कोई मतलब नही है। अब अगर आपने टॉपिक चुन लिया है तो आप ब्लॉगिंग शुरू कर सकते है।



HOW TO MAKE BLOG ( ब्लॉग कैसे बनाये )

अब मैं आपको बताने वाला हु की ब्लॉग कैसे बनाये पर इससे पहले आपको अपने ब्लॉग का नाम रखना पड़ेगा। अपने ब्लॉग का नाम आपको ठीक से सोच कर और कुछ अलग रखना है ताकि यह ओरो से अलग हो और कुछ यूनिक रखना है ताकि लोगो को आपके ब्लॉग का नाम याद रहे। नाम रखने के बाद अब आप ब्लॉगिंग शुरू कर सकते है। शुरुआत में आप एक फ्री ब्लॉग बना सकते है।

1. ब्लॉग बनाने के लिए आपको बस एक gmail id की जरूरत पड़ेगी।
2. आपको www.blogger.com पर जाना है और gmail से sing in कर लेना है।
4. अब आपको अब आपको अपने ब्लॉग का नाम रखना है।
5. बस आपका ब्लॉग बन जाएगा।
6. अब आप पोस्ट लिखना शुरू कर सकते है।

पर उससे पहले आपको अपने ब्लॉग की थीम और टेम्पलेट्स को अच्छा बनाना होगा। ताकि यह आपके ब्लॉग पर आने वाले यूजर को अच्छा लगे और जल्दी लोड हो जाए और आपको अपने टेम्पलेट को मोबाइल फ्रेंडली बनाना होगा क्योंकि आज कल ज्यादातर लोग फ़ोन पर ही इंटरनेट चलते है।



HOW TO START EARNING FROM BLOGGING ( ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए )

ब्लॉगिंग से पैसे कमाने के लिए आपको सबसे पहले एक डोमेन लेना होगा ओर उसे आपके ब्लॉग पर लगाना होगा ताकि blogspot.com हट जाए। जब आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक आने लग जाए लोग आने लग जाए तो आप एडसेंस के लिए एप्लाई कर सकते है और गूगल एडसेंस से पैसे कमा सकते है। एडसेंस गूगल का एक प्रोडक्ट है जो आपकी वेबसाइट पर ad दिखाएगा। जब कोई उन ad पर क्लिक करेगा तो गूगल आपको उसके कुछ पैसे देगा। पर इसके लिए आपको नियमित पोस्ट लिखनी होगी। और एडसेंस अप्रूव करने के लिए आपकी वेबसाइट को 6 महीने पूराना होना चाहिए। एडसेंस जल्दी भी अप्रूव हो जाता है अगर आप अच्छा कंटेंट लिखो और रेगुलर पोस्ट डालते रहो।

दोस्तों उम्मीद करता हु की आपको सब समझ आ गया होगा की BLOGGING KYA HAI ब्लॉगिंग क्या होती है और इससे पैसे कैसे कमाए जाते है। अगर आपको कुछ समझ नही आया है तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हो।


HOW TO INCREASE SMARTPHONE BATTERY LIFE (स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ कैसे बढ़ाये)


दोस्तों आज के समय में स्मार्टफोन सबके पास है और सब इसका इस्तेमाल करते है। लोग वीडियो देखने के लिए फेसबुक चलाने के लिए या इंटरनेट से कनेक्ट रहने के लिए ज्यादातर एक स्मार्टफोन को काम में लेते है। आप भी स्मार्टफोन का इन कामों में यूज़ लेते होंगे ऐसे में आपको अपने फ़ोन में बैटरी की प्रॉब्लम होती होगी।
तो दोस्तों आज इस पोस्ट में मैं आपको कुछ टिप्स देने वाला हु और बताने वाला हु की स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ को कैसे बढ़ाये how to increase smartphone battery life ( स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ कैसे बढ़ाये ) इसके लिए आपको कुछ स्टेप फॉलो करने पड़ेंगे।

मोबाइल में बैकग्राउंड डेटा बन्द करे

दोस्तों अपने गोर किया होगा की जब आप इंटरनेट का इस्तेमाल नही करते तब आपके फ़ोन की बेटरी ज्यादा चलती है लेकिन जब आप इंटरनेट चलाते है तो आपके फोन की बेटरी जल्दी खत्म हो जाती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि जब आप इंटरनेट चलते है तो बैकग्राउंड में बहुत से एप्स ऑन रहते है जो आपका डेटा ओर बैटरी दोनो खत्म करते है तो सबसे पहले आपको अपने मोबाइल में बैकग्राउंड डेटा को बन्द करना है।

   1. सबसे पहले आपको अपने फ़ोन की सेटिंग में जाना है।
   2. फिर deta usage पर क्लिक करना है।
   3. अब आपको background data पर जाना है।
   4. अब आप जिन भी एप का डेटा बन्द करना चाहते है उन्हें बन्द कर देना है।
जिन एप्स का डेटा अपने ऑफ किया है अब वो बैकग्राउंड में नही चलेंगे और ना ही आपका डेटा खत्म करंगे। इससे आपके फ़ोन की बैटरी भी बचगी।

जीपीएस, वाईफाई, ब्लूटूथ, और हॉटस्पॉट बन्द रखे

दोस्तो मैने देखा है की बहुत से लोग अपने फ़ोन में जीपीएस, वाईफाई, ब्लूटूथ, और हॉटस्पॉट ऑन रहते है जब वो इनका इस्तेमाल भी नही कर रहे होते है तब भी ये सब ऑन रखते है।
जिससे फ़ोन की बैटरी भी जल्दी खत्म होती है और डेटा भी।
तो दोस्तो जब आप इनका इस्तेमाल नही कर रहे हो या इस्तेमाल कर चुके हो तो इन्हें ऑफ कर देना चाहिए ताकि आपके फ़ोन की बैटरी और डेटा सुरक्षित रहे।

ऑटो एप्प अप्डेट्स बन्द रखे

अपने फ़ोन की बैटरी और डेटा सुरक्षित रखने के लिए आपको ऑटो एप अपडेट को ऑफ करना होगा क्योंकि कुछ एप्स ऐसे होते है जिन्हें आप इस्तेमाल भी नही करते फिर भी वो अपडेट हो जाते है जो आपके फ़ोन की बैटरी के साथ-साथ डेटा को भी नष्ट करते है तो आपको ऑटो एप्स अपडेट को बन्द रखना है।
   1. सबसे पहले आपको Playstore पर जाना है।
   2. अब यहाँ Menu पर जाना है और Setting को open
        करना है।
   3. अब आपको यहाँ Auto App Update का ऑप्शन
        दिखेगा। यहाँ आपको Don't Auto App Update पर क्लिक करना है।
अब कोई भी एप्स ऑटोमेटिक अपडेट नही होगा इससे आपकी बैटरी और डेटा दोनो बचेंगे।

फ़ोन की ब्राइटनेस कम रखे

अगर आपके फ़ोन की ब्राइटनेस ऑटो मोड़ पर है तो उसे मेनुअल मोड़ पर कर दे और फ़ोन की ब्राइटनेस कम रखे इससे आपकी बैटरी भी बचेगी और आपकी आँखे भी।

बैटरी सेव करने वाले एप्प इनस्टॉल न करे

और लास्ट जो टिप है वो यह है की बैटरी सेव करने वाले एप्प इनस्टॉल न करे क्योंकि एक तो ये एप सेफ नई होते और यह आपके फ़ोन की बैटरी बचाने की जगह खुद ज्यादा बैटरी यूज़ करते है। क्योंकि यह बैकग्राउंड में चलने वाली एप्स को तो हटा देते है पर खुद बैकग्राउंड में चलते रहते है और बैटरी खत्म करते रहते है इसलिए इन्हें इनस्टॉल ना करे।